Tuesday, June 25, 2024

महिलाओं ने सीखा टेराकोटा आर्ट से कलाकृतियां बनाना

इस ख़बर को सुनने के लिए 👇"Listen" पर क्लिक करें

राजसमंद। राजसमंद जिले के खमनोर ब्लॉक के मोलेला गांव में महिलाओं ने 15 दिवसीय टेराकोटा कला प्रशिक्षण कार्यक्रम सफलतापूर्वक पूरा किया। इस कार्यक्रम का आयोजन राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) के वित्तीय सहायता से आर्यमा सेवा समिति ब्यावर द्वारा किया गया था।

प्रशिक्षण कार्यक्रम में, ट्रेनर और शिल्प कलाकार राजेंद्र कुम्हार ने महिलाओं को मिट्टी से विभिन्न प्रकार की कलाकृतियां बनाना सिखाया। महिलाओं ने इस कला को सीखने में बहुत रुचि दिखाई और 15 दिनों में उन्होंने टेराकोटा कला में महारत हासिल कर ली।

प्रशिक्षण कार्यक्रम के समापन समारोह में नाबार्ड के डीडीएम आशीष जैन ने अध्यक्षता की। इस अवसर पर सुमन अजमेरा, डीपीएम राजीविका, संस्थान अध्यक्ष बलवंत भाटी, महिलाएं और कर्मचारी उपस्थित थे।

प्रशिक्षण कार्यक्रम के लाभ:

इस प्रशिक्षण कार्यक्रम से महिलाओं को टेराकोटा कला का हुनर सीखने का अवसर मिला।

यह कला महिलाओं के लिए स्वरोजगार का एक अच्छा माध्यम बन सकती है।

टेराकोटा कला से महिलाएं अपनी रचनात्मकता और कल्पनाशीलता को व्यक्त कर सकती हैं।

इस कला से महिलाओं को आत्मनिर्भर बनने में मदद मिलेगी।

👤 Rahul Acharya
March 17, 2024

You May Also Like👇