Tuesday, June 25, 2024

मानसिक बीमारी बनता जा रहा है बेवजह बार-बार मोबाइल देखना

इस ख़बर को सुनने के लिए 👇"Listen" पर क्लिक करें

नाथद्वारा। जैन मुनि रविंद्र कुमार एवं मुनि अतुल कुमार म. की निश्रा में सकल जैन समाज के तत्वावधान में भगवान महावीर जन्म कल्याणक दिवस पर एक शाम बच्चों के नाम का आयोजन तेरापंथ भवन में हुआ। सकल जैन समाज के अध्यक्ष ईश्वर सामोता एवं मंत्री सौरभ लोढ़ा ने स्वागत वक्तव्य दिया।

मुनि अतुल कुमार ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा मानसिक बीमारी बनता जा रहा है बेवजह बार-बार मोबाइल देखना। मोबाइल और इंटरनेट के जाल में गुम होती जा रही है बाल्यावस्था और युवावस्था। आज के समय में मोबाइल फ़ोन रोटी, कपड़ा और मकान जितना ज़रूरी हो गया है। कई लोगों का कामकाज ही मोबाइल फोन पर चलता है। इस दौर में सिर्फ बड़े ही नहीं बल्कि बच्चे भी मोबाइल की लत का शिकार हो रहे हैं। घंटों तक मोबाइल फोन इस्तेमाल करने से मानसिक और शारीरिक सेहत पर बुरा असर पड़ रहा है। मोबाइल जीवन में अब शायद सांस लेने जितना ज़रूरी हो गया है। जिसके बिना कोई जी नहीं सकते। स्मार्टफोन और सोशल मीडिया की वजह से पति-पत्नी के बीच विवाद बढ़ रहे हैं। पुलिस और कोर्ट कचहरी तक मामले पहुंच रहे हैं। आज स्मार्टफोन और सोशल मीडिया का जमाना है, लेकिन इसकी लत पति पत्नी के मधुर संबंधों के बीच दरार का कारण भी बन रही है। और उनके रिश्ते टूटने की नौबत तक आ रही हैं।

👤 Rahul Acharya
April 21, 2024

You May Also Like👇

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *